ajad log

Just another weblog

250 Posts

727 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1601 postid : 1739

जयराम ..........मंदिर की जगह मस्जिद बोला होता तो .....? होता

Posted On: 8 Oct, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

एक मंत्री ने मंदिर पर ब्यान दिया है , एक फिल्म ने ओह माय गोड ने हिन्दू धर्म को बदनाम करने की साजिश रची है , दोनों ही मामले देश की बहुसंख्यक आबादी को बदनाम करने वाले उकसाने वाले और धर्म को बदनाम करने वाले हैं ! लेकिन फिर भी देश शांत है ! विरोध है तो केवल फसेबूक , या किसी भी अन्य सोशिअल मिडिया पर ! लोगो के अंदर गुस्सा है पर खी कोई तोड़ – फोड़ नही हुई कही कोई लड़ाई झगड़ा दंगा फसाद नही हुआ ! कुछ सालो पहले एक कलाकार ने हिन्दू धर्म के देवी देवताओ पर अपनी कला का भद्दा प्रदर्शन किया था नाम था ‘ एम् ऍफ़ हुसेन ‘ उस समय भी देश के हिन्दू ने हर मुस्लिम को इसका दोषी नही माना ! एम् करुणानिधि जैसे लोग भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल उठाते रहे हैं राम और सीता को भाई – बहन तक कहते रहे हैं फिर भी हिन्दू ने उग्र रूप धारण नही किया ! अब एक मंत्री जी ने कहा है मंदिर से पवित्र है शोचालय ! मंत्री जी ने मंदिर पर हमला बोला है देश की आत्मा पर हमला ! फिर भी देश शांत है !

पिछले दिनों अमेरिका में एक फिल्म बनी नाम ठीक से याद नही आ रहा शायद ‘ इन्सोसिस ऑफ़ इस्लाम ‘ यही नाम होगा ! सम्पूर्ण विश्व दंगो की चपेट में आ गया भारत के हिंदूवादी समझे जाने वाले गुजरात के अहमदाबाद शहर में भी उत्पातियो ने थाना फुक डाला ! अजीब था ये सब कहा अमेरिका में फिल्म बनी दंगे भडके भारत में !
फिर भी आजकल कुछ लोग कहते है हिन्दू आतंकवाद है ? भाई कहा है हिन्दू आतंकवाद ? अपने देश में सब तरह की गदर फंड हो रहे हैं जवाहर लाल यूनिवर्सिटी में गौ मास पार्टिया आयोजित होती है तब भी दंगा नही भडकता ! अपने ही देश में अयोध्या नगरी में राम मंदिर नही बन पता तब भी हिन्दू शांत रहते हैं ! हिन्दुओ के ही देश में गिलानी जैसे लोग आजम खान जैसे लोग भारत माता का अपमान करते हैं फिर भी लोग शांत हैं !
जरा सोचिये इतना सब किसी मुस्लिम देश में मुसलमानों के साथ हुआ होता तब क्या होता ? चलिए छोडी भारत में ही जयराम रमेश ने मंदिर की जगह मस्जिद अथवा चर्च शब्द प्रयोग किया होता तब क्या होता ? शायद अब तक देश के कई इलाको में कर्फ्यू लग चूका होता ! शायद ‘इस्लाम खतरे में है ‘ ये नारा प्रचलित होता ! चलिए छोडी इतना सब न भी होता तो अब तक जयराम जी की मंत्री पद से राम – राम हो जाती !

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

6 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Chasmine के द्वारा
October 17, 2016

Is that really all there is to it because that’d be fltasergbbaing.

akraktale के द्वारा
October 10, 2012

विकास जी                    सादर, आपकी बात सीधी और बेलाग है. सच है यदि ऐसे कथन किसी और धर्म के विरुद्ध होते तो अब तक देश में हर प्रदेश में प्रदर्शन शुरू हो गये होते. किन्तु दुर्भाग्य कि बात है कि आज हिंदू ने हिंदुत्व के नाम पर कायरता का चोला ओढ़ लिया है.और यकीन मानिए जब तक सोनिया गाँधी इस देश में कांग्रेस के शीर्ष पड़ पर विराजमान रहेंगी हिंदुओं को लगातार अपमानित किया जाएगा. आपने इस मुद्दे को उठाया आभार आपका.

satish3840 के द्वारा
October 8, 2012

बात तो आपकी एकदम ठीक हें / सच ही हें गरीब की जोरू सबकी भाभी


topic of the week



latest from jagran